रोमियों 15:2

2हम में से हर एक, दूसरों की अच्छाइयों के लिए इस भावना के साथ कि उनकी आत्मिक बढ़ोतरी हो, उन्हें प्रसन्न करे।

Share this Verse:

FREE!

One App.
997 Languages.

Learn More