मत्ती 5:47

47यदि तू अपने भाई बंदों का ही स्वागत करेगा तो तू औरों से अधिक क्या कर रहा है? क्या ऐसा तो विधर्मी भी नहीं करते?

Share this Verse:

FREE!

One App.
859 Languages.

Learn More