मतà¥Âà¤¤à¥€~ 5:46

46इ मइँ यह बरे कहत हउँ कि जदि तू ओनही स पिरेम करब्या जउन तोहसे पिरेम करत हीं तउ तोहका का फल मिली? का अइसा तउ चुंगी (टैक्स) क उगाहिया भी नाहीं करतेन?

Share this Verse:

FREE!

One App.
1550 Languages.

Learn More